बरसते पानी में भी कम नहीं हुआ भुजरिया पर्व का उत्साह

41

रायसेन (ब्यूरो)। भुजारिया पर्व पर झमाझम बारिश होने के बावजूद लोगों का उत्साह कम नहीं हुआ। लोगों ने भीगते पानी में यह पर्व मनाया और झिमझिम बारिया के बीच शहर में भुजरियों का जुलूस निकला। हालांकि बारिश के कारण लोगों की संख्या कम रही। बावजूद इसके त्यौहार का उत्साह लोगों में जबर्दस्त था।

रक्षाबंधन के दूसरे दिन मनाए जाने वाला भुजरिया पर्व जिले भर में उत्सा एवं उमंग के साथ मनाया गया। शहर, नगर, कस्बा एवं गांव हर जगह लोगों ने भुजरियों के जुलूस निकाले और नदी-सरोवरों पर उनका विसर्जन किया। इसके उपरांत घर-परिवार व मित्र, संबंधियों में भुजरिया मिलन समारोह शुरू हुआ, जो देर रात तक चलता रहा। पर्व की परंपरा अनुसार एक-दूसरे से भुजरियों का आदान-प्रदान कर शुभकामनाएं दी। वहीं छोटों को बड़ों से अशीर्वाद व दुआएं दी और छोटों ने बड़ों से उपहार प्राप्त किए। बच्चों में उपहार मिलने के कारण पर्व का उत्साह कुछ अधिक रहा।

उत्साह से मना भुजरिया पर्व

फोटो क्र. 19 आरएसएन 4

गैरतगंज। भुजरिया पर्व के दौरान बीना नदी पर भुजरियां विसर्जित करतीं महिलाएं।

गैरतगंज। भुजरिया पर्व क्षेत्रभर में परम्परागत तरीके से उत्साह के साथ मनाया गया। भुजरिया पर्व पर लोगों ने मिलन समारोहो के माध्यम से एक दूसरे को त्यौहार की शुभकामनाएं दी। खास बात यह रही कि बारिश के बाबजूद इस त्यौहार पर लोग बड़ी संख्या में भुजरिया पर्व मनाने अपने घरों से निकले तथा सभी ने त्यौहार का भरपूर लुत्फ लिया।

भुजरिया पर्व को लेकर लोगों में हमेशा की तरह उत्साह रहा। शुक्रवार को पूरी गैरतगंज तहसील भर में भुजरिया पर्व की धूम रही। प्रेम और सद्भाव के प्रतीक इस पर्व पर सभी धर्मो के लोगो ने एक दूसरे को भुजरिया देकर पर्व की शुभकानाएं दी। नगर में कई स्थानों पर भुजरिया पर्व के उपलक्ष्य में मिलन समारोह भी आयोजित किए गए। इस मौके पर नगर में श्रद्घालुओं ने भुजरियों का चल समारोह किसानी मौहल्ला, पाठा मौहल्ला से होता हुआ नगर के मुख्य मुख्य मार्गो पर निकाला एवं बीना नदी घाट पर भुजरियों का विसर्जन किया गया।

1063 COMMENTS


    Fatal error: Allowed memory size of 94371840 bytes exhausted (tried to allocate 1748992 bytes) in /home/hinduism/hinduismnow.org/wp-includes/comment-template.php on line 2099